बात साक़ी की न टाली जाएगी

Lyricist: Habib Jaleel
Singer: Jagjeet Singh, Chitra Singh

बात साक़ी की न टाली जाएगी
कर के तौबा तोड़ डाली जाएगी।

देख लेना वो न खाली जाएगी
आह जो दिल से निकाली जाएगी।

ग़र यही तर्ज़-ए-फुगाँ है अन्दलीब
तो भी गुलशन से निकाली जाएगी।

आते-आते आएगा उनको ख़याल
जाते-जाते बेख़याली जाएगी।

क्यों नहीं मिलती गले से तेग़-ए-नाज़
ईद क्या अब के भी खाली जाएगी।

फुगाँ = Cry of Pain
अन्दलीब = Nightingale
तेग़ = Sword

2 Responses to बात साक़ी की न टाली जाएगी

  1. mithlesh shrivastava says:

    Gazabkiaya tere gazlon n bekarar kiya!

  2. imran khan says:

    वो कहते हैं दिल पे भरोसा इतना नहीं करते,
    हम कहते हैं महोब्बत में सोचा नहीं करते,
    वो कहते हैं नज़रों से दूर पर दिल के पास हुँ,
    हमने कहा सपनो से दिल को बहलाया नहीं करते

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: